आइये आपका स्वागत है

Saturday, 13 April 2013

माँ की जोत जली है !

माँ की जोत जली है ,
हर तरफ हुयी रौशनी है !
सबके दिल में वास करेगी ,
माँ सबका बेडा पार करेगी !

पाप और दुष्कर्म हरेगी ,
जीवनपथ को निर्मल करेगी !
मन में शीतल उमंग भरेगी ,
नव - चेतना जाग्रत करेगी !

माँ की भक्ति जो दिल से करेगा ,
जीवन- पथ को अग्रसर करेगा !
उन्नति के नए आयाम भरेगा ,
मन-मंदिर को स्वच्छ करेगा !

 बोलो माँ की जय जय कार ,
जीत लो खुशियों का संसार !
फिर से न ये जन्म मिलेगा ,
कर लो सब अपना बेड़ा पार !

शेरो वाली पहाडा वाली माता,
 तेरी सदा ही जय हो !
     जय माता दी !


16 comments:

  1. बहुत ही मधुर सुन्दर भक्ति गीत.

    ReplyDelete
  2. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (14-04-2013) के चर्चा मंच 1214 पर लिंक की गई है कृपया पधारें. सूचनार्थ

    ReplyDelete
    Replies
    1. अरुण जी आपका तहेदिल से शुक्रिया मेरी रचना को अपनी चर्चा में स्थान देने के लिए .... सादर !

      Delete

  3. बहुत सुन्दर....बेहतरीन प्रस्तुति
    पधारें "आँसुओं के मोती"

    ReplyDelete
  4. वाकई दिल की आवाज है यह
    सुंदर महिमा माँ की
    आप भी पधारें हमारे आंगन
    ''माँ वैष्णो देवी ''

    ReplyDelete
  5. सुंदर प्रस्तुति ..... बेहतरीन रचना!
    जय माता दी

    ReplyDelete

  6. भक्ति भावपूर्ण सुन्दर प्रस्तुति !
    latest post वासन्ती दुर्गा पूजा
    LATEST POSTसपना और तुम

    ReplyDelete
  7. बोलो माँ की जय जय कार ,
    जीत लो खुशियों का संसार ...

    जय माता दी.... मन मोहते हैं आरती के ... शुभ नवरात्रि ...

    ReplyDelete
  8. आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया मेरी इस रचना को अपना समय देने के लिए एवं अपनी बहुमूल्य प्रतिकिर्या देने के लिए ... स्नेह युहीं बनायें रखें ... सादर !

    ReplyDelete

पधारने के लिए धन्यवाद